अजटेक लिपि

अद्‌भुत भारत की खोज
यहां जाएं: भ्रमण, खोज
गणराज्य इतिहास पर्यटन भूगोल विज्ञान कला साहित्य धर्म संस्कृति शब्दावली विश्वकोश भारतकोश
लेख सूचना
अजटेक लिपि
पुस्तक नाम हिन्दी विश्वकोश खण्ड 1
पृष्ठ संख्या 82
भाषा हिन्दी देवनागरी
संपादक सुधाकर पाण्डेय
प्रकाशक नागरी प्रचारणी सभा वाराणसी
मुद्रक नागरी मुद्रण वाराणसी
संस्करण सन्‌ 1973 ईसवी
उपलब्ध भारतडिस्कवरी पुस्तकालय
कॉपीराइट सूचना नागरी प्रचारणी सभा वाराणसी
लेख सम्पादक मोहनलाल तिवारी ।

अजटेक लिपि मेक्सिको के उत्तर पश्चिम एनिमास नदी की घाटी में स्थित रेड इंडियन आदिवासियों की भाषा और लिपि है। अजटेक भाषा और लिपि को स्थानीय भाषा में नहुआ या नहुअतल्‌ कहा जाता है। अंग्रेजी और स्पेनी भाषा के माध्यम से इस भाषा के कतिपय शब्द अंतर्राष्ट्रीय स्वीकृति प्राप्त कर चुके हैं, यथा टोमाटो, चाकलेट, क्रोसेलाट आदि। मेक्सिको में इस समय अजटेक (नहुआ) बोलने वालों की संख्या दस लाख के लगभग है। यह अमरीका परिवार (उटी-अजटेक वर्ग) की एक भाषा है। ये भाषाएँ छह उपवर्गों में बाँटी गई हैं, यथा-
1. नहुअतल्‌,
2. पिपिल,
3. निकरओ,
4. टलस्कलटेक,
5. सिगुआ,
6. कज़कन।
रोमन लिपि के आधिपत्य से पूर्व ये भाषाएँ जिस लिपि में लिखी जाती थीं उसे अजटेक लिपि कहा जाता है। यह चित्रलिपि ही है। यह अमरीका की मायालिपि का एक विकसित रूप है। इस लिपि के सभी संकेत चिन्ह चित्र ही होते हैं।

पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध



टीका टिप्पणी और संदर्भ


[[Category::हिन्दी विश्वकोश]]

निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
भ्रमण
भारतकोश
सहायता
टूलबॉक्स