नल

अद्‌भुत भारत की खोज
यहां जाएं: भ्रमण, खोज
गणराज्य इतिहास पर्यटन भूगोल विज्ञान कला साहित्य धर्म संस्कृति शब्दावली विश्वकोश भारतकोश

नल नाम के दो व्यक्ति हुए हैं, एक तो रामायण में उल्लिखित बंदर (नील) जिसका साथी नील था और दूसरा राजा नल। राजा नल विदर्भ की राजकुमारी दमयंती को स्वयंवर में जीत लाते और जीवन में अनेक विपत्तियों का सामना करते हैं। अंत में वह अपना राजपाट प्राप्त कर फिर सुखी हो जाते हैं। इनके जीवन के संबंध में संस्कृति की प्रसिद्ध कविता 'नलोदय' है। महाभारत में भी नलोपाख्यान है।


टीका टिप्पणी और संदर्भ

"http://bharatkhoj.org/india/%E0%A4%A8%E0%A4%B2" से लिया गया
निजी टूल
नामस्थान
संस्करण
क्रियाएं
भ्रमण
भारतकोश
सहायता
टूलबॉक्स